जब प्रोटोकाल तोड़कर फ़ैज़ से मिले थे अटल बिहारी वाजपेयी

जब प्रोटोकाल तोड़कर फ़ैज़ से मिले थे अटल बिहारी वाजपेयी

बतौर विदेश मंत्री अटल बिहारी बाजपेई पाकिस्तान के आधिकारिक दौरे पर थे।प्रोटोकॉल तोड़ कर फ़ैज़ से मिलने उनके घर गए।सब चकित। दोनों दो तरह से सोचने वाले ।फ़ैज़ भी चकित।मिलने पर वाजपेईजी ने कहा – मैं सिर्फ एक शेर के लिए आप से मिलने आया हूं। और शेर पढ़ा – मक़ाम ‘फ़ैज़’ कोई राह में […]

Read More
 गज़ल – मैं काँपने लगा हूँ दूरियाँ बनाते हुए

गज़ल – मैं काँपने लगा हूँ दूरियाँ बनाते हुए

मैं काँपने लगा हूँ दूरियाँ बनाते हुए मुहब्बतों से भरी कश्तियाँ डुबाते हुए गुज़र गई है फकत सीढियाँ बनाते हुए कराबतों से भरी क्यारियाँ सजाते हुए के खिड़कियां ही लगाना है काम अब मेरा उजाले आने की आसानियाँ बनाते हुए मुसीबतों से संवारी थी ज़िन्दगी हमने वो सोचता नहीं है बस्तियाँ जलाते हुए के पासबान […]

Read More
 गज़ल – गुज़र गई है मेरी उम्र खुद से लड़ते हुए – "ख़ान"अशफाक़ ख़ान

गज़ल – गुज़र गई है मेरी उम्र खुद से लड़ते हुए – "ख़ान"अशफाक़ ख़ान

गुज़र गई है मिरी उम्र खुद से लड़ते हुए मुहब्बतों से भरे वो खतों को पढ़ते हुए धुएं की तरह बिखरता रहा फज़ाओं में के उम्र बीत गई हवा संग उड़ते हुए बिखर गए हैं मिरे ख्वाब सह्र होते ही मैं देखता हूं सभी ख्वाब यार जगते हुए खुदा ए बंद से इतनी दुआ है […]

Read More