एलेक्टोरेल बांड एक सुनियोजित घोटाला है ?

एलेक्टोरेल बांड एक सुनियोजित घोटाला है ?

किसी भी राजनीतिक दल को मिलने वाले चंदे इलेक्टोरल बॉन्ड कहा जाता है. ये एक तरह का नोट ही है जो एक हज़ार, 10 हज़ार, एक लाख, 10 लाख और एक करोड़ तक आता है. कोई भी भारतीय नागरिक इसे स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया से खरीद सकता है और राजनीतिक पार्टी को चंदा दे सकता […]

Read More
 इलेक्टोरल बांड – कब क्या हुआ

इलेक्टोरल बांड – कब क्या हुआ

इलेक्टोरल बांड, चुनाव में भ्रष्टाचार का एक बड़ा कारण है। इस पर रोज़ कुछ न कुछ खुलासे हो रहे हैं। राजनीतिक चंदे को लेकर जिस एलेक्टरल बांड की योजना 2018 में जारी की गई थी, उसके बारे में यहां कुछ तथ्य दिए जा रहे है। इस मामले में और भी तथ्य सामने आ रहे हैं। […]

Read More
 चंदे का धंधा करने वाला इलेक्टोरल बांड

चंदे का धंधा करने वाला इलेक्टोरल बांड

सरकार के लिए पारदर्शिता नया पर्दा है। इस पर्दे का रंग तो दिखेगा मगर पीछे का खेल नहीं। चुनावी चंदे के लिए सरकार ने बांड ख़रीदने का नया कानून पेश किया है। यह जानते हुए कि मदहोश जनता कभी ख़्याल ही नहीं करेगी कि कोई पर्दे को पारदर्शिता कैसे बता रहा है। पहले किसी राजनीतिक […]

Read More