मुख्य निर्वाचन आयुक्त महोदय, यह चुनाव आयोग की साख का सवाल है

मुख्य निर्वाचन आयुक्त महोदय, यह चुनाव आयोग की साख का सवाल है

ओपी रावत देश के पूर्व मुख्य निर्वाचन आयुक्त रह चुके हैं। उन्होंने अपने एक बयान में कहा है कि, ” प्रथम दृष्ट्या यह एक गंभीर मामला लगता है। मुझे यह याद नही कि पहले कभी ऐसा प्रकरण ( कि मतगणना में पड़े हुए मतपत्रों और डाले गए वोटों में कोई अंतर ) मेरे कार्यकाल में […]

Read More
 भारतीय चुनाव आयोग के समक्ष साख का संकट

भारतीय चुनाव आयोग के समक्ष साख का संकट

कल 20 मई की रात से ही हंगामा मचा हुआ है कि यूपी और बिहार के कुछ जिलों, चंदौली, गाजीपुर, सारण और हरियाणा के फतेहाबाद में ईवीएम से लदे बिना नम्बर वाले ट्रक मतगणना स्थल के पास जहां ईवीएम रखी हुई है देखे गए हैं। शिकायतें हैं कि ईवीएम बदली जा रहीं है। अब हैकिंग संभव नहीं […]

Read More
 नज़रिया – क्या चुनाव आयोग पक्षपात कर रहा है ?

नज़रिया – क्या चुनाव आयोग पक्षपात कर रहा है ?

चुनाव आयोग द्वारा, पश्चिम बंगाल में सातवें चरण के चुनाव प्रचार का समय एक दिन घटाने का आदेश विधि विरुद्ध है। 19 मई को आखिरी चरण का चुनाव है और नियमतः 48 घन्टे पहले यानी 17 मई को सायं 5 बजे तक सभी दल चुनाव प्रचार कर सकते हैं। सातवें चरण के लिये जो अधिसूचना […]

Read More
 चुनाव और निर्वाचन आयोग की साख – एक प्रतिक्रिया

चुनाव और निर्वाचन आयोग की साख – एक प्रतिक्रिया

राजनीति में उखाड़ पछाड़ चलता रहता है। यह सनातन है। उसी तरह से संसदीय लोकतंत्र में हार जीत होती रहती है। बिल्कुल एक बनारसी कहावत की तरह, कभी घनीघना, कभी मुट्ठी भर चना कभी वह भी मना। लेकिन संसदीय लोकतंत्र को पटरी पर बनाये रखने के लिये जिन संस्थाओं का गठन संविधान में किया गया […]

Read More