चुनाव और निर्वाचन आयोग की साख – एक प्रतिक्रिया

चुनाव और निर्वाचन आयोग की साख – एक प्रतिक्रिया

राजनीति में उखाड़ पछाड़ चलता रहता है। यह सनातन है। उसी तरह से संसदीय लोकतंत्र में हार जीत होती रहती है। बिल्कुल एक बनारसी कहावत की तरह, कभी घनीघना, कभी मुट्ठी भर चना कभी वह भी मना। लेकिन संसदीय लोकतंत्र को पटरी पर बनाये रखने के लिये जिन संस्थाओं का गठन संविधान में किया गया […]

Read More
 चुनाव आयोग से पहले भाजपा आईटी सेल ने कैसे कर दी कर्नाटक चुनाव की घोषणा?

चुनाव आयोग से पहले भाजपा आईटी सेल ने कैसे कर दी कर्नाटक चुनाव की घोषणा?

चुनाव आयोग से पहले ही तारीखें सार्वजनिक होने से एक बार फिर चुनाव आयोग की विश्वस्नीयता पर सवाल उठ रहे हैं. मालूम होकि बीजेपी के आईटी सेल इंचार्ज अमित मालवीय ने पहले ही इसकी घोषणा कर दी थी. जब चुनाव आयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे, तो उनके द्वारा तारीख बताने से पहले ही अमित […]

Read More