कभी थे लेफ़्ट की आवाज़ अब हैं " अखिलेश के सिपाहसालार "

कभी थे लेफ़्ट की आवाज़ अब हैं " अखिलेश के सिपाहसालार "

अमीक़ जामेई, यह नाम नया नहीं है, रोज़ टीवी बहसो मे संविधान के दायरे मे वह ग़रीबों मुफ़लिसों के लिये टक्कर लेते नज़र आयेंगे, वोह उत्तर प्रदेश के जिला जौनपुर के छोटे से गाँव “जैगहा” के एक प्रतिष्ठित मध्यम वर्गीय परिवार हाजी शमशेर खान के परिवार में जन्मे, जैगहा का यह परिवार समाजी इंसाफ, सद्भावना […]

Read More
 एक नागरिक का पयाम, लेफ़्ट फ्रंट के नाम

एक नागरिक का पयाम, लेफ़्ट फ्रंट के नाम

केंद्र में साढ़े तीन बरस और दीगर राज्यों में लगभग डेढ़ दशकों के झूठ, फ़रेब, मक्कारी, औरत विरोधी, अमीरपरस्त- ग़रीब विरोधी, नफ़रत, ख़ून ख़राबा, ग़ैर संवैधानिक आचरण और देश को दुनिया में शर्मशार करने वाली, पूंजीवादी बर्बरता के पुख़्ता और ज़िन्दा सुबूत होने के बावजूद त्रिपुरा में भ्रष्ट और तानाशाही के हाथों  “आपकी” ऐसी हार […]

Read More