आधिकारिक वेबसाईट से गायब हुआ “असम NRC का डेटा”

आधिकारिक वेबसाईट से गायब हुआ “असम NRC का डेटा”

असम में एनआरसी के बाद कुल 19 लाख लोग उक्त रजिस्टर में नहीं आ पाए थे। उन्हें अपनी नागरिकता साबित करने के लिये अभी अपील आदि की प्रक्रिया का न्यायिक अधिकार प्राप्त है। इसी बीच यह खबर आ रही है कि, एनआरसी का वह डेटा, जिसमे एनआरसी में शामिल और ना शामिल लोगों से जुड़े […]

Read More
 असम NRC में लिस्ट से बाहर हुए ट्रांसजेंडर्स की याचिका पर सरकार को नोटिस

असम NRC में लिस्ट से बाहर हुए ट्रांसजेंडर्स की याचिका पर सरकार को नोटिस

जब से असम में एन आर सी लागू हुआ है, तब से एन आर सी की पूरी प्रक्रिया विवादों में रही है। असम से पहले ट्रांसजेंडर जस्टिस बरुआ ने राष्ट्रीय नागरिक पंजी की प्रक्रिया में ट्रांसजेंडर्स को कथित रूप से शामिल नहीं करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी। याचिकाकर्ता के अनुसार […]

Read More
 असम – NRC में है नाम, फिर भी भाजपा विधायक ने बताया बांग्लादेशी, प्रशासन से तुड़वाए 450 घर

असम – NRC में है नाम, फिर भी भाजपा विधायक ने बताया बांग्लादेशी, प्रशासन से तुड़वाए 450 घर

असम के सोनितपुर डिस्ट्रिक्ट के सूतिया में भाजपा विधायक पदमा हजारिका द्वारा बुलडोज़र का उपयोग करके 450 घरों को तोड़ने की घटना सामने आई है। जिसके बाद लगभग 3000 लोग अपने ही गाँव में टैंट में ज़िंदगी गुजारने को मजबूर हैं। ये सभी लोग मुस्लिम समुदाय के बताए जा रहे हैं। यह खबर हमें अरब […]

Read More
 क्या CAA पर असम के मुख्यमंत्री ने भाजपा से बगावत कर दी है ?

क्या CAA पर असम के मुख्यमंत्री ने भाजपा से बगावत कर दी है ?

तो क्या असम के मुख्यमंत्री ने नागरिकता संशोधन क़ानून से बग़ावत कर दी है? सोनेवाल ने कहा है कि इस क़ानून के चलते कोई भी विदेशी असम की धरती पर नहीं आ सकता। असम पुत्र होने के नाते कभी किसी विदेशी को यहाँ बसने नहीं दूँगा। सोनेवाल कभी ऐसा नहीं होने देगा। सोनेवाल का यह […]

Read More
 यूपी में ये क्या हो रहा है ?

यूपी में ये क्या हो रहा है ?

केंद्र सरकार इस पूरे मुद्दे पर हुई हिंसा को अलग ही रूप देने के मूँड में नजर आ रही है। असम में छात्र संगठनों द्वारा किये गए आंदोलन के दौरान हुई हिंसा के लिए सरकार अब कांग्रेस और कैडर बेस्ड इस्लामिक संगठन PFI को ज़िम्मेदार ठहरा रही है। ज्ञात होकि असम से लेकर दिल्ली, और […]

Read More
 नज़रिया – यूनिवर्सिटी छात्रों से मारपीट के क्या मायने हैं?

नज़रिया – यूनिवर्सिटी छात्रों से मारपीट के क्या मायने हैं?

आप सब जानते है कि NRC CAB के नाम से भारत को तोड़ने का काम किया जा रहा है। जब एक तरफ देश ‘भुखमरी,  बेरोजगारी, आर्थिक मंदी से गुज़र रहा है, जब देश मे हो रहे बलात्कारों से हैवान भी कांप रहे हैं। जब हर तरफ त्राहि त्राहि मची है, उस वक़्त सरकार ने आखिर […]

Read More
 नज़रिया – क्या आप समाज को बर्बर बनाए जाने का आनंद ले रहे हैं ?

नज़रिया – क्या आप समाज को बर्बर बनाए जाने का आनंद ले रहे हैं ?

नोटबंदी हुई तो किसी को कारण पता नहीं था। ना उद्देश्य ना लक्ष्य। कालाधन, आतंकवाद, डिजिटल अर्थव्यवस्था, नकली नोट – हर चीज की चर्चा थी। पर जब नोटबंदी नाकाम रही, किसी ने इसकी जिम्मेदारी नहीं ली। किसी को जिम्मेदार नहीं ठहराया गया। ना प्रधानमंत्री, ना वित्त मंत्री, ना आर्थिक सलाहकार ना भारतीय रिजर्व बैंक। देश […]

Read More
 नागरिकता संशोधन विधेयक: हिंदी प्रदेश को कचरे के ढेर में बदला जा रहा है – रविश कुमार

नागरिकता संशोधन विधेयक: हिंदी प्रदेश को कचरे के ढेर में बदला जा रहा है – रविश कुमार

जिस तरह से धारा 370 की राजनीति कश्मीर के लिए कम हिन्दी प्रदेशों को भटकाने के लिए ज़्यादा थी उसी तरह से नागरिकता संशोधन बिल असम या पूर्वोत्तर के लिए कम हिन्दी प्रदेशों के लिए ज़्यादा है। इन्हीं प्रदेशों में एक धर्म विशेष को लेकर पूर्वाग्रह इतना मज़बूत है, कि उसे सुलगाए रखने के लिए […]

Read More
 संविधान विरोधी नागरिकता बिल देश को बांटेगा- रिहाई मंच

संविधान विरोधी नागरिकता बिल देश को बांटेगा- रिहाई मंच

लखनऊ, 18 नवम्बर 2019। रिहाई मंच नागरिकता के सवाल पर सांप्रदायिक-भेदभावपूर्ण गैरसंवैधानिक नागरिकता बिल का कड़ा विरोध करता है। रिहाई मंच ने कहा की विपक्ष साफ करे कि न वो वाकआउट करेगा, न उसके सदस्य अनुपस्थित रहेंगे और सदन में खड़े होकर देश को बांटने वाली नीति के खिलाफ आवाज़ बुलंद करेंगे। रिहाई मंच अध्यक्ष […]

Read More
 असम, त्रिपुरा, मणिपुर, मेघालय में क्यों हो रहा है नागरिकता संशोधन बिल का विरोध?

असम, त्रिपुरा, मणिपुर, मेघालय में क्यों हो रहा है नागरिकता संशोधन बिल का विरोध?

मोदी सरकार ने नागरिकता संशोधन बिल को लोक सभा में पास करा लिया है। इसके प्रावधान के तहत पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान में सताए गए वैसे हिन्दू, सिख, बौद्ध, पारसी और ईसाई को भारत में छह साल रहने के बाद नागरिकता दी जा सकती है जो 31 दिसंबर 2014 के पहले भारत आ गए थे। […]

Read More