हिमाचल प्रदेश

पहाड़ से गिर रही थीं चट्टानें, 9 लोगों ने गंवा दी ज़िंदगी

पहाड़ से गिर रही थीं चट्टानें, 9 लोगों ने गंवा दी ज़िंदगी

दूसरी लहर के कहर के बाद जैसे ही सरकारों ने ढिलाई देना शुरू किया, तभी से पहाड़ों पर सैलानियों को भीड़ उमड़ पड़ी थी। हिमाचल में भूस्खलन की आशंका पहले से जताई जा रही थी। अब बीते रविवार हिमाचल प्रदेश के किनौर में एक बड़ा हादसा हो गया है। हिमाचल के किन्नौर में रविवार को बड़ा हादसा हो गया है। यहां के सांगला-छितकुल रोड पर भूस्खलन के कारण चट्टानें चलते टेंपो ट्रैवलर वाहन पर गिर गईं हैं। इस हादसे में कुल 9 लोगों की मौत हो है। इसके अलावा चार लोग जख्मी भी बताए जा रहे हैं।

सैलानियों समेत 9 लोगों की हुई है मौत

इस घटना में सैलानियों समेत इस हादसे में 9 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, चार लोगों के घायल होने की बात भी सामने आई है। इस घटना पर प्प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे पर दुख जताया है साथ ही दो लाख के मुआवजे का भी ऐलान किया है।

टैंपो ट्रेवलर पर गिरी चट्टाने

जानकारी के मुताबिक हादसा रविवार दोपहर 1.30 बजे हुआ था। सांगला-छितकुल रोड पर बटसेरी के पास चट्टानें गिरीं हैं। जो टैंपो ट्रेवलर इस भीषण हादसे का शिकार हुआ है उसमें कुल 11 लोग सवार थे। इसमें मरने वाले लोगों में से चार लोग राजस्थान से थे। इसके अलावा दो छत्तीसगढ़ से आए थे। और एक-एक व्यक्ति दिल्ली व महाराष्ट्र से था, हालंकि एक मृतक की अभी पहचान नहीं हो पाई है। ये सभी एक ट्रैवल एजेंसी के जरिए हिमाचल घूमने आए थे।

प्रधानमंत्री ने सरकारी फंड से किया मुआवजे का ऐलान
हिमाचल प्रदेश के हादसे में अपनी जान गंवाने वाले लोगों के लिए पीएम मोदी ने अपनी संवेदनाएं जाहिर की हैं। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के किन्नौर में भूस्खलन से हुआ हादसा अत्यंत दुखद है। इसमें जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदनाएं हैं। दुर्घटना में घायल हुए लोगों के इलाज की पूरी व्यवस्था की जा रही है। मैं उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं। इसके साथ ही मृतकों के परिजनों को पीएमएनआरएफ से दो-दो लाख रुपये के मुआवजे का ऐलान किया गया है। साथ ही जो घायल हुए हैं, उनकी भी 50 हजार रुपये की सहायता की जाएगी।

घर-पुल भी आया चपेट में

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार भूस्खलन होने से चट्टानों की चपेट में बटसेरी पुल भी आ गया है। पुल पूरी तरह से टूट गया, इसके अलावा वहां से गुजर रहे कुछ लोग, सेब के बाग और मकान भी त्रासदी का शिकार हो गए हैं। मौके पर पुलिस पहुंच गई है और रेस्क्यू अभियान चलाया जा रहा है।

About Author

Heena Sen