October 20, 2021
अंतर्राष्ट्रीय

एक बार फिर भारत-चीन सीमा पर बढ़ा तनाव

एक बार फिर भारत-चीन सीमा पर बढ़ा तनाव

पिछले लगभग एक साल से चीन और भारत के बीच सीमा पर तनाव बढ़ गया है। एलएसी (Line of Actual Control – LAC) पर आए दिन चीन और भारत की तरफ से फायरिंग देखने को मिलती है। दोनों ही देश अपने अपने सैन्य अभ्यासों में काफी सक्रिय नजर आ रहे है। इन सबके कारण चीन और भारत के बीच के संबंध भी बिगड़े है।

मगर हाल ही में सामने आई एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, चीन का पीपल्स लिब्रेशन आर्मी (People’s Libration Army – PLA) लद्दाख क्षेत्र में अपनी सक्रियता फिर बढ़ा रही है। कुछ वक्त तक दोनों देशों की तरफ से शांति देखने को मिल रही थी। मगर एक बार फिर चीन देर रात शिनजियांग (Shinziyang) सैन्य जिले में युद्ध अभ्यास करता नजर आ रहा है।

चीन की सक्रियता बढ़ी

साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट (South China Morning Post) अखबार में रविवार को छपी एक खबर के मुताबिक पीएलए (PLA) की वेस्टर्न थिएटर कमांड (Western Theatre Command) ने देर रात हिमालय क्षेत्र के पास सीमा पर युद्ध अभ्यास किया था। यह वही सैन्य जवान है जो भारत के साथ मिलकर सीमा पर नियंत्रण की जिम्मेदारी देखते है। ऐसे में दोनों देशों के राजनय (Diplomacy) पर बड़ा सवाल उठ रहा है।

समाचार पत्र पीएलए डेली (PLA Daily) ने जानकारी सांझा की है कि ऊंचाई पर चीन की तरफ से युद्ध अभ्यास किया गया था। इससे यह साफ है कि चीन एलएसी (LAC) के ऊंचाई वाले इलाकों में अपनी पैठ बनाने का प्रयास कर रहा है।

दोनों देशों में खुद को मजबूत करने की दौड़

चीन और भारत के बीच शुरू हुए सीमा तनाव के बाद से दोनों देश अपने अपने इंफ्रास्ट्रक्चर (Infrastructure) को मजबूत बनाने के चक्कर में लगे हुए है। एलएसी (LAC) इलाके में दोनों देश नए – नए निर्माण काफी तेजी से कर रहे है। चीन ने शिनजियांग (Shinziyang) से तिब्बत (Tibet) तक तीन नए एयरबेस (Airbase) का निर्माण किया है। साथ ही वह पांच और नए एयरबेस बनाने का प्लान कर रहा है।

भारत ने चीन से सटी सीमावर्ती इलाकों तक अपनी पहुंच को सरल और तेज बनाने के लिए नए सड़क का निर्माण किया है। साथ ही भारत में चीन के बाजार कोभी काफी हद तक प्रभावित किया है।

About Author

Ankit Swetav