December 4, 2021

“तारक मेहता का उल्टा चश्मा” (tarak mehta ka ulta chashma) में नट्टू काका (nattu kaka) की भूमिका निभाने वाले घनश्याम नायक (ghanshyam nayak) का 3 अक्टूबर की शाम निधन हो गया। वो कैंसर से ग्रसित थे और उनका इलाज भी चल रहा था। उनकी अंतिम यात्रा पर तारक मेहता टीम के सभी सदस्य पहुंचे।

नट्टू काका के निधन की खबर सोशल मीडिया पर शो के निर्माता आसित कुमार मोदी ने ट्वीट करके दी। बता दें कि घनश्याम नायक को “तारक मेहता का उल्टा चश्मा” के माध्यम से दर्शकों का मनोरंजन करते हुए 13 साल हो गए थे। वहीं उन्होंने कई फिल्मों में सपोर्टिंग रोल भी किये हैं। इलाज से पहले वो गुजरात के दमन में तारक मेहता की शूटिंग कर रहे थे।

मुख्य रूप से गुजरती कलाकार थे नट्टू काका

12 मई 1945 को बॉम्बे प्रेजीडेंसी में जन्मे घनश्याम नायक ने 100 से अधिक हिंदी और गुजराती फिल्मों में काम किया है। उन्होंने 350 टीवी धारावाहिक में भी अभिनय किया है। इसके अलावा 100 से अधिक गुजराती स्टेज शो, आशा भोसले और महेन्द्र कयमर के साथ 12 से अधिक गुजराती फिल्मों में प्लेबैक के साथ साथ 350 गुजराती फिल्मों को डब भी किया है। उन्होंने अपनी आवाज़ दिग्गज अभिनेता कन्हैया लाल की फ़िल्म “एक और संग्राम” और एक भोजपुरी फिल्म “बेरी सावन” में भी दी है।

अपनी कॉमेडी के लिए जाने जाते है

नट्टू काका (nattu kaka) के रोल में घनश्याम नायक ने 13 साल तक दर्शकों का मनोरंजन किया है। तारक मेहता का उल्टा चश्मा, में उनके अंग्रेज़ी बोलने के अंदाज़ को काफ़ी पसंद किया जाता था।

ये तस्वीर उस एपिसोड है कि जिसमे नट्टू काका अपने भतीजे बाघा के साथ मिलकर जेठालाल की दुकान 3 करोड़ में बेच देते हैं (तस्वीर :गूगल)

यहीं नहीं गड़ा इलेक्ट्रॉनिक में काम करने वाले नट्टू काका का हमेशा अपने सेठ जेठालाल (jethalal) से पगार बढ़वाने के लिए अपनाए जाने वाले आइडिया पर भी दर्शक खूब मज़े लिया करते थे। शो में उनके भतीजे (बाघा) का किरदार निभाने वाले कॉ एक्टर तन्मय वेकेरिया के साथ उनकी ट्यूनिंग काफ़ी पसन्द की जाती थी।

जून में बीमारी का पता चला था

नट्टू काका को गले मे कैंसर था जिसका पता इसी साल जून में चला। जून में मीडिया को दिए एक इंटरव्यू में उनके बेटे विकास ने बताया था कि उनके गले मे क्लॉट्स होने की जानकारी मिली थी, जिसके बाद ज़रूरी जांच कराई गई तो पता चला कि उनकव गले में कैंसर हैं। उनकी कीमोथेरेपी शुरू हो चुकी थी लेकिन तबियत लगातार नासाज़ हो रही थी।

इससे पहले पिछले साल उनके गले के दो बार ऑपरेशन हो चुके थे जिसमें 8 गांठे निकली गयी थी। वो आगे कहते हैं कि डॉक्टर ने उन्हें पूरी तरह आराम करने के लिए कहा था।

बाल कलाकार के रूप में शुरू हुआ था करियर

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक घनश्याम नायक उर्फ़ नट्टू काका ने 1960 में अशोक कुमार (ashok kumar) की फ़िल्म मासूम से बाल कलाकार के रूप में अपने करियर की शुरुआत की थी।

इस तस्वीर में घनश्याम नायक उर्फ़ नट्टू काका के निभाए गए कई किरदार एक साथ शामिल किए गए हैं। एक तस्वीर अशोक कुमार के साथ मासूम फ़िल्म की है तो दूसरी हम दिल दे चुके सनम की है। (तस्वीर :गूगल)

इसके अलावा टीवी शो, खिचड़ी, फिलिप्स टॉप 10, दिल मिल गए, एक महल सपनो का, साराभाई बनाम साराभाई, सारथी और तारक मेहता का उल्टा चश्मा शो से दर्शकों का मनोरंजन किया। उन्होंने तेरे नाम, हम दिल दे चुके सनम, चाइना गेट, आशिक आवारा और लज्जा जैसी फिल्मों में सपोर्टिंग रोल भी किये हैं।

तारक मेहता के निर्माता आसित मोदी ने दी निधन की जानकारी

सोशल मीडिया पर सबसे पहले तारक मेहता का उल्टा चश्मा शो के निर्माता आसित कुमार मोदी ने नट्टू काका के निधन की खबर दी थी।

https://twitter.com/AsitKumarrModi/status/1444649126830870529?s=20

उन्होंने लिखा- “परम कृपालु परमेश्वर आपको चरणों मे स्थान दे और आपके परिवार को दुःख सहने की शक्ति दे। हम आपको नहीं भुला पाएंगे @nattu kaka.”
इ टाइम्स टीवी से शो में रोशन कौर सोढ़ी ने कहा, “हमे अभी इस खबर के बारे में पता चला है, ये बेहद दुखद है हमने उन्हें खो दिया”, बाघा का किरदार निभाने वाले तन्मय ने कहा, वो एक रत्न थे और मेरे सबसे करीब थे। उन्होंने फिर से साथ मे काम करने की पूरी कोशिश की लेकिन उनके स्वास्थ्य ने अनुमति नहीं दी। मुझे उनके चले जाने का बेहद दुःख है।




About Author

Sushma Tomar