नज़रिया – इंतज़ार कीजिये, भीड़ आपके दरवाज़े पर कब दस्तक देती है

नज़रिया – इंतज़ार कीजिये, भीड़ आपके दरवाज़े पर कब दस्तक देती है

इतिहास साक्षी है के प्रथम विश्व युद्ध के बाद यूरोप में अराजकता का चरम था. युद्ध के बाद अर्थव्यवस्था ध्वस्त हो चुकी थी. युवा वर्ग बेरोज़गारी के कारण बदहवास था और वर्तमान सत्ता से निराश आम जनों का विश्वास लोकतंत्र पर कमज़ोर हो रहा था. विरोध के स्वर उठ रहे थे. प्रदर्शन हड़तालों की सिलसिला […]

Read More
 तेजस्वी के रूप में नीतीश ने एक समानांतर नेता खड़ा कर लिया है

तेजस्वी के रूप में नीतीश ने एक समानांतर नेता खड़ा कर लिया है

आज बिहार विधानसभा में तेजस्वी का 41 मिनट का भाषण सुनने लायक़ है। नीतीश ने एक समानांतर नेता खड़ा कर दिया है। नीतीश कुमार और भाजपा को क़ायदे से धोया है। पर, शर्म सबको कहां आती! अभी के तेवर से लग रहा है कि लालू नेपथ्य में भी चले जाएं, तो तेजस्वी अब काफ़ी हैं […]

Read More
 सत्ता और कार्पोरेट मीडिया  हर जनपक्षधर आवाज को संदिग्ध बना देना चाहती है

सत्ता और कार्पोरेट मीडिया हर जनपक्षधर आवाज को संदिग्ध बना देना चाहती है

सत्ता के भी षड्यंत्र का जवाब नहीं! फासिस्ट सत्ता हर उस आवाज को दफन कर देना चाहती है, जो सत्ता की पोल-पट्टी खोलती हो और गरीब-मजलूम जनता के पक्ष में आवाज बुलंद करती हो। षड्यंत्रकारी सत्ता इसमें नीचता की तमाम हदें पार कर रही है। जनता को सुरक्षा, सम्मान व रोजी-रोटी देने में नाकाम सत्ता […]

Read More
 हिंसा के शिकार हिन्दुओ की मदद करेंगे प. बंगाल के मुसलमान

हिंसा के शिकार हिन्दुओ की मदद करेंगे प. बंगाल के मुसलमान

पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले में एक फेसबुक पोस्ट से भड़की हिंसा के बीच एक अच्छी खबर आ रही है। दरअसल हिंसा के दौरान यहाँ प्रदर्शनकारियों ने हिन्दुओं की दुकानों में तोड़फोड़ की थी। इसलिए यहाँ बशीरहाट में इलाके के कुछ मुसलमानों ने हिंसा में नुकसान उठाने वाले हिन्दुओं की मदद करने का […]

Read More