वाह रे मीडिया, अभिनंदन को भारत तो आ जाने देते ….. !

वाह रे मीडिया, अभिनंदन को भारत तो आ जाने देते ….. !

भारतीय मीडिया निहायत ही बदमिज़ाज और सत्ता का चाटुकार है. पाकिस्तान ने अभिनंदन को छोड़ने का फैसला लिया तो हेडलाइंस लग रही हैं: ‘झुक गया पाकिस्तान’, ‘डर गया पाकिस्तान’. मीडिया को टीआरपी और सर्कुलेशन के लिए तनाव चाहिए. युद्ध जैसे हालात चाहिए. इसके दो फ़ायदे हैं. पहला, तथ्यों की परवाह नहीं रहती. कुछ भी बोलकर […]

Read More
 राव, अस्थाना, वर्मा , मोदी और भ्रष्टाचार

राव, अस्थाना, वर्मा , मोदी और भ्रष्टाचार

सीबीआई के नए डायरेक्टर एम नागेश्वर राव के ख़िलाफ़ घूसखोरी के कई मामले हैं. आलोक वर्मा ने इन्हें हटाने की सिफारिश दी थी. सीवीसी ने मांगें नहीं मानी और राव के ख़िलाफ़ जांच नहीं हुई. अब घूसखोर अस्थाना को बचाने के लिए नागेश्वर राव को कमान दे दी गई. लोकपाल क़ानून 2013 में ये प्रावधान […]

Read More
 अब सरकार हाथ खड़े करने लगी है पेट्रोल-डीज़ल-गैस पर क़ाबू पाना उसके हाथ में नहीं है.

अब सरकार हाथ खड़े करने लगी है पेट्रोल-डीज़ल-गैस पर क़ाबू पाना उसके हाथ में नहीं है.

पेट्रोल-डीज़ल-गैस पर अब सरकार हाथ खड़े करने लगी है. खुलकर कहने लगी है इस पर क़ाबू पाना उसके हाथ में नहीं है. चार साल पहले जादूगर गोगा की तरह नरेन्द्र मोदी हर समस्या का समाधान छड़ी घुमाते ही दे देते थे. अब इनके हाथ में कुछ नहीं रहा. 2017 में मोदी जी ने देश को […]

Read More
 प्रधानमंत्री और उद्योगपति- पार्ट -2: "मुकेश अंबानी"

प्रधानमंत्री और उद्योगपति- पार्ट -2: "मुकेश अंबानी"

उद्योगपति कोई किसान या मज़दूर की तरह विशाल संख्या वाला समुदाय नहीं है। उद्योगपति के साथ जब नरेन्द्र मोदी खड़े होने की बात करते हैं तो आप उंगलियों पर गिन सकते हैं कि वो किनके साथ खड़े हैं। ये कौन लोग हैं, इनका रिकॉर्ड क्या रहा है? इन्होंने ‘देश के लिए’ क्या किया और सिस्टम […]

Read More
 प्रधानमंत्री और उद्योगपति- पार्ट – 1: "गौतम अडानी"

प्रधानमंत्री और उद्योगपति- पार्ट – 1: "गौतम अडानी"

उद्योगपति कोई किसान या मज़दूर की तरह विशाल संख्या वाला समुदाय नहीं है। उद्योगपति के साथ जब नरेन्द्र मोदी खड़े होने की बात करते हैं तो आप उंगलियों पर गिन सकते हैं कि वो किनके साथ खड़े हैं। ये कौन लोग हैं, इनका रिकॉर्ड क्या रहा है? इन्होंने ‘देश के लिए’ क्या किया और सिस्टम […]

Read More
 नज़रिया – क्या शहरी माओवादी वाला सारा मामला 2019 का चुनाव प्रचार है ?

नज़रिया – क्या शहरी माओवादी वाला सारा मामला 2019 का चुनाव प्रचार है ?

मोदी को मारने वाली पहले की तमाम कहानियां झूठी साबित हो चुकी हैं. कोई आदमी राजनीतिक फ़ायदे के लिए “ख़ुद की हत्या” तक की कहानी कैसे लगातार ठेल सकता है? कितना असंवेदनशील आदमी है ये? Rona Wilson प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की हत्या का प्लॉट रच रहे थे! सीरियसली? मोदी साहब को अपनी जान का ख़तरा दिखाने […]

Read More
 अनिल अग्रवाल की वेदांता लोगों को मार रही है या सरकार अपने नागरिकों को मारने पर तुली है?

अनिल अग्रवाल की वेदांता लोगों को मार रही है या सरकार अपने नागरिकों को मारने पर तुली है?

एक कैपिटलिस्ट मुल्क है नॉर्वे. पश्चिमी योरोप का स्कैंडेनेवियन देश है. वहां पेंशन स्कीम के लिए सरकार कॉरपोरेट्स से फंड लेती है. पिछले साल वहां की सरकार ने वेदांता से फंड लेने से मना कर दिया. एथिक्स कमेटी ने कहा कि ये लुटेरी कंपनी है. दुनिया के तमाम मुल्कों में क़ानूनों का उल्लंघन करती है. […]

Read More
 बीजेपी अगर कुछ विधायक ख़रीदकर सरकार बना लेती, तो वो महानैतिक काम होता.

बीजेपी अगर कुछ विधायक ख़रीदकर सरकार बना लेती, तो वो महानैतिक काम होता.

मास्टरस्ट्रोक और नैतिकता संख्या कम थी. येदियुरप्पा ने राज्यपाल को जो चिट्ठी सौंपी, उसमें विधायकों के नाम नहीं थे. राज्यपाल ने मांग से आगे जाकर 15 दिन का टाइम दे दिया. येद्दि ने जोश में अगली सुबह शपथ भी ले ली. अकेले कैबिनेट की मीटिंग भी कर ली. कांग्रेस-जेडीएस के विधायकों को ख़रीदने की बेतरह […]

Read More
 पत्रकार शांतनु भौमिक की हत्या के पीछे कौन ?

पत्रकार शांतनु भौमिक की हत्या के पीछे कौन ?

दिनरात चैनल के पत्रकार शांतनु भौमिक की त्रिपुरा में हत्या में किसका हाथ? IPFT पिछले कई दिनों से आंदोलन कर रहा था। कल CPM के संगठन TRUGP और IPFT में झड़प हो गई। शांतनु भौमिक वही कवर कर रहे थे। IPFT के समर्थकों ने शांतनु पर हमला किया। फिर अपहरण कर लिया। पुलिस को जब […]

Read More
 ये भी तो अज़ादी ही है, कि किसे बाईट दी जाये और किसे नहीं

ये भी तो अज़ादी ही है, कि किसे बाईट दी जाये और किसे नहीं

दो दिनों से कई पोस्ट पढ़ चुका हूं जिसमें Shehla Rashid की इस बात पर आलोचना की जा रही है कि उसने Republic के पत्रकार को क्यों हड़काया। कुछ बातें कहने को हैं: ये जो ताज़ा रिपब्लिक है और जिसका डॉन पहले TIMES NOW में था, उसने कैसी रिपोर्टिंग और कैसी डिबेट की JNU को […]

Read More