उफनती बाढ़ के पानी में पुलिया पर सबसे आगे दौड़ता ये शख्स है NDRF (नेशनल डिजास्टर मैनेजमेंट फ़ोर्स) के सदस्य कन्हैया कुमार जिसका केरल में एक हीरो की तरह सम्मान किया जा रहा है.

इनकी गोद में एक बीमार बच्चा है, जिसे उसके पिता से लेकर कन्हैया कुमार पुल पार करने के लिए भागे थे, ये फोटो मलयालम मनोरमा के चीफ फोटोग्राफर रिजो जोसेफ ने क्लिक किया था.

घटना है केरल के इदुक्की ज़िले की जब पेरियार नदी में भीषण बाढ़ आई तो उसी वक़्त नदी के तट के पास एक पिता गोद में अपनी नवजात को लिए मदद की आस में खड़े थे ! वो बच्चा बहुत बीमार था और उसे तुरंत ही मेडिकल हेल्प की जरूरत थी.

कन्हैया कुमार उस पिता की गोद में नवजात को देखते ही दौड़ पड़े, कन्हैया ने उस नवजात को उनकी गोद से लेकर पुलिया पार करने के लिए दौड़ लगाई, साथ में कन्हैया के पीछे-पीछे उस नवजात का पिता और बाक़ी लोग भी भागने लगे, ऐसा करने के लिए कन्हैया के पास बहुत वक़्त नहीं था, लेकिन उन्होंने कर दिखाया.

कन्हैया ने बच्चे को निकाला ही था कि पुल बाढ़ के पानी में बह गया, पल भर में ही लगा कि वहां कोई पुल था ही नहीं और नदी समंदर की तरह दिखने लगी.

इदुक्की में NDRF के अधिकारियों का कहना है कि कन्हैया ने नवजात को सुरक्षित निकालने में महज 26 सेकंड का वक़्त लिया.