असम के बिस्वनाथ जिले में बुधवार को गाय चोर होने के संदेह पर भीड़ ने एक की हत्या कर दी और तीन लोग बुरी तरफ जख्मी हो गए हैं. गुरुवार को पुलिस ने इस घटना की जानकारी दी. पुलिस के अनुसार, यह घटना राज्य की राजधानी से लगभग 230 किमी दूर डिप्लोंगा चाय बागान में हुई थी.

घटना का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें देखा जा सकता है कि पीड़ित जमीन पर बैठे हाथ जोड़कर छोड़ देने की मांग कर रहा था जबकि अन्य लोग उसकी पिटाई कर रहे थे.

घायल पीड़ितों को बिस्वनाथ चरियाली शहर में एक निजी नर्सिंग होम में ले जाया गया, जहां उनमे से एक, देबेन राजबोंगशी की मृत्यु हो गई. अन्य तीन फूलचंद साहू, बिजॉय नायक और पूजेन राजबोंगशी, जिन्हें सिर, पैरों और बाहों पर चोट आई है, उनका इलाज चल रहा है.

सभी पीड़ित ‘आदिवासी’ समुदाय के हैं जो मुख्य रूप से क्षेत्र के चाय बागानों में काम करते हैं. पिछले वर्ष असम के नौगाँव ज़िले में 2 युवकों की गाय चोरी के नाम पर हत्या कर दी गई थी. गाय चोरी के नाम पर भीड़ द्वारा हत्या का असम में उस वक़्त यह पहला मामला था.