इटावा का “टीपू” कैसे बना उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री

इटावा का “टीपू” कैसे बना उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री

अखिलेश यादव के जन्मदिवस पर उनके राजनीतिक जीवन पर एक नजर। उत्तर प्रदेश में 2012 के विधानसभा चुनाव में अखिलेश यादव समाजवादी पार्टी से मुख्यमंत्री बने। इसी के साथ उत्तर प्रदेश के सबसे कम उम्र के मुख्यमंत्री का भी खिताब उन्हीं के नाम है। राजनैतिक परिवेश में होने के कारण अखिलेश यादव का राजनीति में […]

Read More
 भाजपा प्रवक्ता का घिनौना ट्वीट, यूज़र्स ने जमकर लताड़ा

भाजपा प्रवक्ता का घिनौना ट्वीट, यूज़र्स ने जमकर लताड़ा

किसी समय पत्रकार रहे और वर्तमान में उत्तरप्रदेश भाजपा के प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने एक ट्वीट किया। जिसमें उन्होंने बेहद ही सांप्रदायिक रुख अपनाते हुए, समाजवादी पार्टी के लिए नमाज़वादी शब्द का उपयोग किया। जिसके बाद सोशलमीडिया यूज़र्स ने उनकी जमकर क्लास ली। ज्ञात होकि सपा कार्यकर्ता उत्तरप्रदेश में बढ़ रही रेप की घटनाओं […]

Read More
 जॉर्ज फर्नांडिस के घर आडवाणी और मुलायम की वो गुप्त मुलाकात

जॉर्ज फर्नांडिस के घर आडवाणी और मुलायम की वो गुप्त मुलाकात

बात अप्रैल 1999 की है. उड़ीसा के कांग्रेसी मुख्यमंत्री गिरिधर गोमांग के एक वोट से वाजपेयी की एनडीए सरकार सदन के शक्ति परीक्षण में शिकस्त खा चुकी थी. वाजपेयी और आडवाणी भौचक्के थे. उनके पांवों के नीचे से जमीन खिसक गई थी. सिर्फ एक वोट, सिर्फ एक से वाजपेयी सरकार अल्पमत में आ गई थी […]

Read More
 सपा-बसपा गठबंधन, उत्तरप्रदेश और 2019 लोकसभा चुनाव

सपा-बसपा गठबंधन, उत्तरप्रदेश और 2019 लोकसभा चुनाव

कांग्रेस में नेतृत्व भले ही बदला हो मगर अहंकार जस का तस है। पार्टी के नेताओं को समझ लेना चाहिए कि अब राष्ट्रीय और प्रादेशिक कुछ नहीं होता। चरण सिंह और देवेगौड़ा जैसे स्थानीय समझे जानेवाले नेताओं ने दिखाया है कि उनमें भी देश के सबसे बड़े पद को साध लेने का हुनर था, वो […]

Read More
 सीबीआई से डरने वाले नहीं समाजवादी – अमीक जामेई

सीबीआई से डरने वाले नहीं समाजवादी – अमीक जामेई

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रिय अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती के दिल्ली में मिलने की खबरे गरम है, अभी किसी रणनीती या मुलाक़ात की औपचारिक व्यक्तव्य तक नहीं आया था, इधर अखिलेश यादव और मायावती की मिलने की खबरों की अफवाह पर ही केंद्र सरकार ने सीबीआई का डायरेक्शन अखिलेश यादव की तरफ कर […]

Read More
 रोज़गार सृजन में विफल तो मंदिर मस्जिद खेल रही योगी सरकार : अमीक जामेई

रोज़गार सृजन में विफल तो मंदिर मस्जिद खेल रही योगी सरकार : अमीक जामेई

(समाजवादी पार्टी के फायर ब्रांड प्रवक्ता अमीक जामेई ने कहा की 1348494 युवा अभ्यर्थी ने नौकरी के लिए जुलाई 2017 से अक्टूबर 2018 तक किस्मत आज़माई जिसमें पेपर लीक या कुशल प्रशासन न होने की वजह से भर्तियाँ रद्द की गई) 2014 के चुनाव में नरेन्द्र मोदी ने देश के युवाओ को प्रति वर्ष 2 […]

Read More
 नज़रिया – भाजपा के लिए फायदेमंद साबित होगा शिवपाल का समाजवादी सेकुलर मोर्चा

नज़रिया – भाजपा के लिए फायदेमंद साबित होगा शिवपाल का समाजवादी सेकुलर मोर्चा

भारतीय राजनीति के इतिहास में अपने आप को समाजवाद की नई परिपाटी के साथ स्थापित करने वाली समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश की राजनीतिक व्यवस्था में अधिक लोकप्रिय रही है । वही समाजवादी जिसने अपने बल पर सत्ता में परिवर्तन कर राज्य को विकास मूलक कार्यो में जोड़ा , प्रदेश के युवाओं को भी बेहतर शिक्षा […]

Read More
 कभी थे लेफ़्ट की आवाज़ अब हैं " अखिलेश के सिपाहसालार "

कभी थे लेफ़्ट की आवाज़ अब हैं " अखिलेश के सिपाहसालार "

अमीक़ जामेई, यह नाम नया नहीं है, रोज़ टीवी बहसो मे संविधान के दायरे मे वह ग़रीबों मुफ़लिसों के लिये टक्कर लेते नज़र आयेंगे, वोह उत्तर प्रदेश के जिला जौनपुर के छोटे से गाँव “जैगहा” के एक प्रतिष्ठित मध्यम वर्गीय परिवार हाजी शमशेर खान के परिवार में जन्मे, जैगहा का यह परिवार समाजी इंसाफ, सद्भावना […]

Read More
 सोशलमीडिया – चौकीदार से लेकर भागीदार तक सुन लिए, जिम्मेदार शब्द कब सुनेंगे?

सोशलमीडिया – चौकीदार से लेकर भागीदार तक सुन लिए, जिम्मेदार शब्द कब सुनेंगे?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब सत्ता में आये थे तो उन्होंने खुद को देश का चौकीदार कहा था. साथ ही उन्होंने खुदको प्रधानमंत्री कहने से मना करते हुए “प्रधानसेवक’ शब्द का उपयोग किया था. आये दिन अपने भाषणों में खुदके लिए और विरोधियों के लिए अलग-अलग शब्दों का उपयोग पीएम मोदी ने एक अलग पहचान बनाई […]

Read More
 नज़रिया – यूपी निकाय चुनाव में सपा से क्यों छिटका मुस्लिम वोटर्स

नज़रिया – यूपी निकाय चुनाव में सपा से क्यों छिटका मुस्लिम वोटर्स

यादव जाति से ताल्लुक रखने वाले नेताओं को समाजवादी पार्टी के लिए एक बलिदान देने की ज़रूरत है। चूंकि समाज का बड़ा तबका अब इस जाति की राजनैतिक महत्वकांक्षा का उतना ही विरोधी बन गया है जितना कभी ब्राह्मणों का विरोधी था। सबसे ज्यादा यादवों का विरोध पिछड़ी जाति के कुर्मी,मल्लाह, कोईरी,कुशवाहा, केवट आदि करने […]

Read More