भारत के पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के पूर्व कार्यालय में तोड़ फोड़ निंदनीय है

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के पूर्व कार्यालय में तोड़ फोड़ निंदनीय है

पूर्व प्रधानमंत्री चन्द्रशेखर जी आज महत्वपूर्ण हो या न हो पर उनकी हैसियत आज के फर्जी डिग्री और हलफनामा देने वाले आधुनिक अवतारों से कहीं बहुत अधिक थी। वे भले ही मात्र चार महीने ही देश के प्रधानमंत्री रहे हों, पर उनकी व्यक्तिगत हैसियत देश के अग्रिम पंक्ति के नेताओं में प्रमुख थी। 1977 में […]

Read More