इन्हें हर दो साल में सपने बेचने के लिए नई जनता चाहिए, किसानों की बारी आई है – रविश कुमार

इन्हें हर दो साल में सपने बेचने के लिए नई जनता चाहिए, किसानों की बारी आई है – रविश कुमार

मोदी को हर दो साल पर सपने बेचने के लिए नई जनता चाहिए, किसानों की बारी आई है। खेती से जुड़े तीन नए कानूनों को लेकर प्रधानमंत्री मोदी जो सपने दिखा रहे हैं, वही सपने वे 2016 में ई-नाम को लेकर दिखा चके हैं। 14 अप्रैल 2016 को ई-नाम योजना लांच हुई थी। उसके भाषण […]

Read More