पैग़म्बर मुहम्मद स.अ. व. को  “रहमतुल्लिल आलामीन” क्यों कहा जाता है ?

पैग़म्बर मुहम्मद स.अ. व. को “रहमतुल्लिल आलामीन” क्यों कहा जाता है ?

इंसानी इतिहास मे जब हम इंसानों के बीच आपसी ताल्लुक (संबंध) की बात करते है तो देखते है कि “ऊंच नीच” “बड़े छोटे” या “बादशाह और प्रजा” का इतिहास रहा है। जहां गरीब, कमज़ोर, ग़ुलाम पर या रंग के नज़रिए से भेदभाव हुआ है, मज़दूरों पर उनकी मज़दूरी को लेकर भेदभाव हुआ है, ज़ुल्म हुआ […]

Read More