नोटबन्दी – एक मास्टरस्ट्रोक जो बाउंड्री पर कैच हो गया

नोटबन्दी – एक मास्टरस्ट्रोक जो बाउंड्री पर कैच हो गया

नोटबन्दी या विमुद्रीकरण का फैसला कैबिनेट का था या किचेन कैबिनेट का यह न तब पता लग पाया और न ही कोई आज बताने जा रहा है। जब कभी कोई किताब लिखी जायेगी या इस मास्टरस्ट्रोक से जुड़ा कोई नौकरशाह मुखर होगा और अपने महंगे संस्मरण की किताब अंग्रेजी में लिखेगा तो, हो सकता है, […]

Read More
 नोटबंदी, और आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुरामराजन की किताब आई डू, व्हाट आई डू

नोटबंदी, और आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुरामराजन की किताब आई डू, व्हाट आई डू

8 नवम्बर 2016 को रात्रि 8 बजे जब प्रधानमंत्री जी ने खुद ही टीवी पर आकर 1000 और 500 रुपये के नोटों को लीगल टेंडर या अमान्य कर देने की घोषणा की तो देश की कोई तात्कालिक प्रतिक्रिया तब नहीं हुई। लोग अचानक हुयी इस घोषणा से अवाक थे। पर दूसरे दिन, लोगों ने चर्चा […]

Read More
 सूरत में मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों पर मनमोहन ने की चोट

सूरत में मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों पर मनमोहन ने की चोट

मनमोहन सिंह गुजरात में थे. कांग्रेस की तरफ से चुनाव प्रचार कर रहे थे. और दोपहर गुजरात के सूरत में व्यापारियों से मुलाक़ात की. और नोटबंदी को लेकर मोदी सरकार की आलोचना की है. इस दौरान उन्होंने कहा कि जीएसटी से टैक्स टेररिज्म आया. क्या कहा पूर्व प्रधान मंत्री ने? नोटबंदीऔर जीएसटी पर नोटबंदी के बाद लाइन में […]

Read More
 क्या नोट बंदी देश के लिए आर्थिक आपातकाल साबित हुआ ?

क्या नोट बंदी देश के लिए आर्थिक आपातकाल साबित हुआ ?

देश में दो बार आपातकाल लगा पहली बार 1975 में इंदिरा गांधी ने देश में उठ रहे विपक्षी नेताओं के आवाज़ को दबाने के लिए इंदिरा गांधी के द्वारा ने देश में आपातकाल लगा दिया. जिसमें जनता कम नेता अधिक प्रभावित हुए बोलने की आज़ादी छीन ली गई देश भर के छोटे बड़े नेता को […]

Read More
 रविश कुमार ने फ़ेसबुक पोस्ट से बताया नोटबंदी का असर

रविश कुमार ने फ़ेसबुक पोस्ट से बताया नोटबंदी का असर

केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने नोटबंदी के फ़ायदे गिनाते हुए कह डाला कि इससे देह व्यापार में भी कमी आई है. उनके इस बयान के बाद उनका सोशलमीडिया में खूब मज़ाक उड़ाया गया. नोटबंदी के एक साल पूरे होने पर मोदी सरकार जश्न मनाने जा रही है. जिस कारण वह विपक्ष, बुद्धिजीवी एवं पत्रकारों के […]

Read More
 नोबेल विजेता रिचर्ड थेलर और नोटबंदी के समर्थन का झूठा दावा

नोबेल विजेता रिचर्ड थेलर और नोटबंदी के समर्थन का झूठा दावा

भाजपा का खेला भी निराला है। जैसे ही अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार रिचर्ड थेलर को घोषित हुआ, केंद्रीय मंत्रियों तक ने हल्ला मचा दिया कि नोटबंदी के समर्थक को नोबेल मिला है। मानो नोटबंदी के अत्याचार, मंदी, बेरोज़गारी और नोटबंदी के कारण हुई मौतों के पाप से रातोंरात छुटकारा मिल गया। Richard Thaler just won […]

Read More
 फ़्लाप शो साबित हुई नोटबंदी

फ़्लाप शो साबित हुई नोटबंदी

प्रधानमंत्री का देश के नाम संदेश आया. 8 नवंबर रात 8 बजे. राष्ट्र के नाम ये सन्देश नोट बंदी का था. 500 और 1000 के नोट बंद किये जा चुके थे. एक पल में ये लगा कि ये कदम कितना क्रांतिकरी है. सोशल मीडिया इस कदम की सरहाना करने लगी. इसके पीछे सीधा सा लॉजिक […]

Read More
 नोटबंदी : कभी कभी लगता है कि हम असल में इतने मुर्ख है या होने का नाटक करते है

नोटबंदी : कभी कभी लगता है कि हम असल में इतने मुर्ख है या होने का नाटक करते है

अभी अभी नोट बंदी के आकडे आये साफ़ हो गया की प्रधानमन्त्री ने अपने भाषण में नोट बंदी के जितने फायदे गिनाये थे उनमे से एक भी सफल नहीं रहा. न तो जाली नोट पकडाए, न तो काला धन पकडाया और न ही आतंकवाद ख़त्म हुआ तो सवाल है हुआ क्या. हुआ ये की अमीर […]

Read More
 नोटबंदी से आखिर हासिल क्या हुआ ?

नोटबंदी से आखिर हासिल क्या हुआ ?

08 नवंबर 2016 को नोटबंदी का एलान करते वक़्त बताया गया कि कुल 13.82 लाख करोड़ रुपये की मुद्रा प्रचलन से बाहर कर दी गई है। थर्ड डिवीज़नर सिविल इंजीनियर अनिल बोकिल और आठवीं पास अर्थशास्त्री बाबा रामदेव की सलाह पर दसवीं पास पीएम ने ज़ोर शोर से दावा किया कि इस से तीन से […]

Read More
 नोटबंदी का असर – 20000 से ज़्यादा का गिफ्ट देने पर आयकर विभाग को देनी होगी जानकारी

नोटबंदी का असर – 20000 से ज़्यादा का गिफ्ट देने पर आयकर विभाग को देनी होगी जानकारी

नोटबंदी का दंश देश के आम लोगों को ख़ासा परेशान कर रहा है, एक बाद एक आने वाले फरमानों और टैक्स नियमों से आमजन का जीना मुश्किल हो गया है , ऐसा लगता है, जैसे जान आफत में पड़ गई। लोगों ने सोचा कि 31 दिसम्बर के बाद उनकी आफत खत्म हो जाएगी लेकिन आयकर […]

Read More