हर गलत कृत्य को मान्यता देने सोशल मीडिया में बैठा है भीड़तंत्र

हर गलत कृत्य को मान्यता देने सोशल मीडिया में बैठा है भीड़तंत्र

भीड़ तंत्र सोशल मीडिया पर भी मौजूद है। वह भले ही लोगों की खुद जान न लेता हो, लेकिन वह हिंसक समाज बनाने में मददगार साबित हो रहा है। कुतर्कों से अपराध को जस्टिफाई किया जा रहा है। सोशल मीडिया में उन लोगों की बहुतयात है, जिन्होंने अपने चेहरों पर राजनीतिक दलों, धार्मिक संगठनों और […]

Read More
 आस्था और अराजक भीड़

आस्था और अराजक भीड़

आज़ाद भारत में भीड़ ने पहली घटना को अंजाम 6 दिसंबर 1992 को दिया था। ये इस देश की पहली भीड़ थी जो क़ानून को जूते की नोक पर रखकर आतंक एवं भय का माहौल बनाया था। ये अराजक भीड़ जहाँ जहाँ गई वहाँ इंसानियत का गला घोंटती हुई आगे बढ़ी। आज़ाद भारत के इतिहास […]

Read More