नागरिकों को ही ‘विपक्ष’ का विपक्षी बनाया जा रहा है !

नागरिकों को ही ‘विपक्ष’ का विपक्षी बनाया जा रहा है !

सरकार ने अब अपने ही नागरिक भी चुनना प्रारम्भ कर दिया है। सत्ताएँ जब अपने में से ही कुछ लोगों को पसंद नहीं करतीं और मजबूरीवश उन्हें देश की भौगोलिक सीमाओं से बाहर भी नहीं धकेल पातीं तो उन्हें अपने से भावनात्मक रूप से अलग करते हुए अपने ही नागरिकों का चुनाव करने लगती है। […]

Read More
 नए कृषि कानून और उनकी वैधानिकता

नए कृषि कानून और उनकी वैधानिकता

नए कृषि कानूनो को लेकर 26 नवम्बर से किसानों का आंदोलन चल रहा है और  तब से किसान दिल्ली की विभिन्न सीमाओं पर हज़ारो की संख्या में इस सर्दी में बैठे हैं। लोग उन कानूनो पर बहस भी कर रहे है और सरकार की किसानों से बातचीत भी चल रही है । पर इन कानूनों […]

Read More
 नये कृषि कानून में जमाखोरी को क्यों वैध बनाया गया है ?

नये कृषि कानून में जमाखोरी को क्यों वैध बनाया गया है ?

8 दिसंबर, को किसानों ने अपनी मांगों के समर्थन में भारत बंद का आह्वान किया था। बंद सफल रहा । सबसे उल्लेखनीय बात थी कि, इस बंद में देश मे कहीं से भी हिंसा के समाचार नहीं मिले। लंबे समय के बाद, देश मे जनहित के मुद्दे पर जनता जागरूक दिखी और उसने अपने हक़ […]

Read More
 सरकार बनी तो मध्यप्रदेश में नहीं लागू होने दूंगा “किसान विरोधी काला कानून” – कमलनाथ

सरकार बनी तो मध्यप्रदेश में नहीं लागू होने दूंगा “किसान विरोधी काला कानून” – कमलनाथ

यह कानून किसानों के हितों पर कुठारा घात और संघीय ढांचे पर आघात है मंडी टैक्स को भी न्यूनतम स्तर पर लाया जायेगा: पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ भोपाल, 08 अक्टूबर 2020 : पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि केन्द्र की भाजपा सरकार ने महामारी की विभीषिका का फायदा उठाकर किसान विरोधी तीन काले कानून असंवैधानिक […]

Read More
 कृषि कानून बिलों के पास हो जाने के बाद, अब क्या होगा ?

कृषि कानून बिलों के पास हो जाने के बाद, अब क्या होगा ?

राज्यसभा में, हंगामा होते हुए अशांत वातावरण के बीच न यह स्पष्ट हो पा रहा था कि , बिल के समर्थन में हुंकारी कौन भर रहा है, और विरोध में ‘ना’ कौन कर रहा है, राज्य सभा के उपसभापति बस, यह घोषित कर के कि, यह बिल पास हो गया अपनी व्यासपीठ के पीछे, सदन […]

Read More
 मोदी सरकार द्वारा लाए गए तीन कृषि विधेयकों का विरोध क्यों कर रहे हैं किसान ?

मोदी सरकार द्वारा लाए गए तीन कृषि विधेयकों का विरोध क्यों कर रहे हैं किसान ?

देश कोई भी हो, उसके भविष्य निर्माण में सबसे बड़ी भूमिका उसके किसान, मजदूर, छात्र और नौजवान ही निभाते हैं, खासकर किसान। चांद और मंगल पर पहुंच जाने के बावजूद दुनिया जिनके द्वारा उत्पादित अन्न का कोई विकल्प नहीं तलाश पाई है। लोगों के पेट की आग अभी भी अन्न से ही बुझती है और […]

Read More