नज़रिया- किताबें बहुत कुछ सिखाती हैं

नज़रिया- किताबें बहुत कुछ सिखाती हैं

किताबे,पुस्तक और बुक्स इन तीनो ही शब्दों के मायने एक है लेकिन एक है “किताब” जो क़ुरान है,जो गीता है और गुरु ग्रन्थ साहिब है और दूसरी है “पुस्तक” जो किसी भी हिंदी साहित्य के बड़े रचनाकार और पाठक के मुंह से हम सुन सकतें है और तीसरी है “बुक” यानी “दी बुक ऑफ़ एलाई” […]

Read More