असहिष्णुता के प्रति भी बहुत सहिष्णु हो चुके समाज पर कांचा इलैया का दर्द

असहिष्णुता के प्रति भी बहुत सहिष्णु हो चुके समाज पर कांचा इलैया का दर्द

यह हमारे समाज की कड़वी सच्चाई है कि हम असहिष्णुता के प्रति भी बहुत सहिष्णु हो गए है। जब कुछ लोग -जो अकसर अल्पसंख्यक समाज के सदस्य होते हैं – संगठित विरोधियों के हमले का शिकार होते है तो उन्हें हमारे समर्थन की जरूरत होती है। अभी ऐसा नहीं हो रहा है। और पहले भी […]

Read More