नज़रिया – योगी सरकार में कानून का दोहरा मापदंड

नज़रिया – योगी सरकार में कानून का दोहरा मापदंड

गोरखपुर के डॉ कफील खान को सरकार ने एएमयू में भाषण देने के लिये रासुका एनएसए के अंतर्गत निरुद्ध कर दिया है। जहां तक इस कानून के बारे में मैं जानता हूँ, यह कानून उन व्यक्तियों पर लगता है जो लोकव्यवस्था के लिए खतरा बन जाते हैं। अब सरकार ने लोकव्यवस्था के भंग होने के […]

Read More