कमलेश तिवारी की हत्या पर पुलिस की थ्योरी पे उठते सवाल

कमलेश तिवारी की हत्या पर पुलिस की थ्योरी पे उठते सवाल

छह साल से लग्भग हर मुद्दे को सांप्रदायिक रंग सत्तारूढ़ दल, उसका पितृ संगठन, और उत्प्रेरक की भूमिका मे सरकार , देकर ध्रुवीकरण करने की कोरी कोशिश कर रही है। उनके इस एक सूत्री एजेंडे ने सरकार के मूल उद्देश्य और कार्य, गवर्नेंस, यानी सरकार चलाने का कार्य को नेपथ्य मे डाल दिया है। आर्थिक […]

Read More