लॉकडाऊन के कारण ट्रांसपोर्ट उद्योग तबाही की कगार पर, बर्बाद हुई सप्लाई चेन

लॉकडाऊन के कारण ट्रांसपोर्ट उद्योग तबाही की कगार पर, बर्बाद हुई सप्लाई चेन

इस सप्ताह के आखिर तक भयावह समाचार मिलने शुरू हो जाएंगे, नही मैं कोरोना की बात नही कर रहा हूँ, उससे जो होना है वो तो होगा ही, लेकिन इस लॉक डाउन से देश की सप्लाई चेन तितर बितर पड़ गयी है। वो हमें बहुत बड़ा नुकसान पुहचाने जा रही है, अगर मोदी अपने संबोधन […]

Read More
 यह तीन मामले भारत की अर्थव्यवस्था का भविष्य तय करेंगे

यह तीन मामले भारत की अर्थव्यवस्था का भविष्य तय करेंगे

मार्च का मध्य हिस्सा भारतीय इकानॉमी के दशा और दिशा तय करने के लिए बेहद महत्वपूर्ण सिद्ध होने वाला है, इसके तीन प्रमुख कारण है – यस बैंक यस बैंक को 14 मार्च तक की डेडलाइन दे दी गई है। इस अवधि तक उसे 2 अरब डॉलर का फण्ड जुटाना है, यस बैंक भारतीय बैंकिंग […]

Read More
 मोदी सरकार ”Slowdown” शब्द को स्वीकार नहीं करती है, और यही असली खतरा है – मनमोहन सिंह

मोदी सरकार ”Slowdown” शब्द को स्वीकार नहीं करती है, और यही असली खतरा है – मनमोहन सिंह

देश में मंदी की मार और डांवाडोल अर्थव्यवस्था को लेकर पूर्व प्रधानमंत्री और विश्व के जानेमाने अर्थशास्त्री मनमोहन सिंह ने प्रधामंत्री नरेंद्र मोदी की आर्थिक नीतियों पर गहरे सवाल खड़े किये हैं। उन्होंने मोदी सरकार की नस पर हाथ रखते हुए कहा कि मोदी सरकार ”Slowdown” शब्द को स्वीकार नहीं करती है। और, यही असली […]

Read More
 भारत की अर्थव्यवस्था पर बहुत ही गंभीर संकट आ गया है

भारत की अर्थव्यवस्था पर बहुत ही गंभीर संकट आ गया है

मोदी सरकार ने कल वित्त वर्ष 2019-20 के लिए GDP की विकास दर का अनुमान जारी किया है, उनके मुताबिक चालू वित्त वर्ष में जीडीपी की दर पांच फीसदी ही रह जाएगी जो पिछले एक दशक में सबसे कम है। हमे पता है कि खुद सरकार की तरफ से ऐसी रिपोर्ट आई है, लेकिन देश […]

Read More
 अशान्ति, गिरता निवेश और हर पल पंगु होती देश की अर्थव्यवस्था

अशान्ति, गिरता निवेश और हर पल पंगु होती देश की अर्थव्यवस्था

कानपुर के सबसे बड़े औद्योगिक घरानो में से एक के मुखिया से एक दिन एक समारोह में मुलाक़ात हुयी, तो थोड़ी चर्चा देश की अर्थव्यवस्था पर भी हुई। नयी सरकार 2014 में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में आ चुकी थी। मैंने कहा कि अब तो बिजनेस फ्रेंडली सरकार है। प्रधानमंत्री खुद भी एक विकसित राज्य […]

Read More
 क्या हम एक बड़ी आर्थिक मंदी की ओर बढ़ रहे हैं

क्या हम एक बड़ी आर्थिक मंदी की ओर बढ़ रहे हैं

नागरिकता संशोधन कानून ( सीएए ) के तमाम विरोध और तमाशो के बीच वित्तमंत्री थोड़ी चैन से हैं। केंद्र सरकार के पूर्व मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यन ने शुक्रवार को हार्वर्ड विश्वविद्यालय में एक रिसर्च पेपर का प्रजेंटेशन करते हुए कहा कि देश की अर्थव्यवस्था आईसीयू की तरफ बढ़ रही है। वहीं एनबीएफसी कंपनियों में […]

Read More
 भारतीय अर्थव्यवस्था “महान मंदी” (द ग्रेट डिप्रेशन ) की ओर बढ़ रही है

भारतीय अर्थव्यवस्था “महान मंदी” (द ग्रेट डिप्रेशन ) की ओर बढ़ रही है

भारत का निर्यात पिछले साल के इसी महीने के 26.07 अरब डॉलर से घटकर 25.98 अरब डॉलर रह गया। अक्टूबर के मुकाबले भी नवंबर में निर्यात कम हुआ है। इस साल अक्टूबर में भारत ने 26.38 अरब डॉलर मूल्य की वस्तुओं का निर्यात किया था। यह लगातार चौथा महीना है जब देश के निर्यात में […]

Read More
 मोदी सरकार का नया कारनामा : लीजिए प्रीपेड बिजली

मोदी सरकार का नया कारनामा : लीजिए प्रीपेड बिजली

भारत में विद्युत की मांग 6 साल के निचले स्तर पर हैं, देश की जितनी भी बड़ी पॉवर कंपनियां है वह लगातार घाटे में जा रही है। अब भला मोदी सरकार बड़े पूंजीपतियों के नुकसान होते भला कैसे देख सकती है। इसलिए मोदी सरकार ने पावर सेक्टर की स्थिति सुधारने के लिए देश के हर […]

Read More
 नज़रिया – पैसे पेड़ पर नही ऊगते..

नज़रिया – पैसे पेड़ पर नही ऊगते..

हम जो लिब्रेलाइजेशन की औलादें है। हम जो पिछले बीस सालों में कॉलेज से निकलकर धन्धे पानी और जॉब में है.. एक घमण्ड में रहे। घमण्ड ये, की विकास सरकारें नही, हम करते हैं, जनता करती है। गुमान था, कि सरकार चाहे कोई आये, विकास तो होता रहेगा। इसलिए विकास “फार ग्रांटेड” था। तो हमें […]

Read More
 आर्थिक समस्याएं सरकार की प्राथमिकता में क्यों नहीं है ?

आर्थिक समस्याएं सरकार की प्राथमिकता में क्यों नहीं है ?

21 अक्टूबर को महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा के लिये चुनाव हो रहे हैं और अब मतगणना शेष है। पर इस चुनावो में प्रचार हेतु सत्तारूढ़ दल ने अपने एजेंडे में अनुच्छेद 370, सर्जिकल स्ट्राइक, सावरकर और कश्मीर तो रखा, पर महाराष्ट्र को हिला देने वाला बैंकिंग घोटाला, पीएमसी बैंक से जुड़े मसले और खाताधारकों की […]

Read More