क्या भारतीय मीडिया ठहराने और छुपाने के बीच का फ़र्क नही जानता?

क्या भारतीय मीडिया ठहराने और छुपाने के बीच का फ़र्क नही जानता?

मेरठ जनपद के मवाना क़स्बा मे मस्जिद मे ठहरी तब्लीग़ी जमाअत को मीडिया ट्रायल ने इस तरह से पेश किया जैसे यह कोई असामान्य घटना घट गई हो और यह तब्लीग़ी जमाअत, जमाअत न होकर कोई गैंग या गिरोह हो। सबसे पहले यह समझ लें कि तब्लीग़ी जमाअत है क्या ? तब्लीग़ी जमाअत एक ऐसी […]

Read More
 सुतली बम : समाज आगे जा चुका है, पुलिस की कहानियां पुरानी पड़ चुकी हैं

सुतली बम : समाज आगे जा चुका है, पुलिस की कहानियां पुरानी पड़ चुकी हैं

एक खबर हिन्दी के अखबारों के किसी कोने में आए दिन छ्पती रहती है कि कुएं की मुंडेर पर डकैती की साजिश करते तीन पकड़े गए. तीन दशक से ये ख़बरे पढ़ रहा हूँ. अलग अलग जिलों से और अलग अलग समय में ये साजिशकर्ता पकड़े जाते हैं. उनके पास से बरामदगी भी कई साल […]

Read More
 कानूनी प्रक्रिया में राजनैतिक हस्तक्षेप घातक

कानूनी प्रक्रिया में राजनैतिक हस्तक्षेप घातक

उत्तरप्रदेश के बुलंदशहर जिले में एक बड़ी घटना हो गयी है। वहां स्याना नामक थाने के एक गांव में खेतों और बगीचे में कटी गाय के अवशेष मिलते हैं और उससे लोगों की भावनाएं भड़कती हैं। लोग सड़क जाम करते हैं, और उस जाम को खुलवाने के लिये इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह वहां कुछ पुलिस […]

Read More
 तिरंगा यात्रा में मुस्लिम-विरोधी नारे और भगवा झंडे क्यों ?

तिरंगा यात्रा में मुस्लिम-विरोधी नारे और भगवा झंडे क्यों ?

यूपी के कासगंज में तिरंगा यात्रा के बाद हुई एक मौत के बवाल मचा हुआ है, सोशलमीडिया में एक समुदाय विशेष को टारगेट करके मैसेज चलाये जा रहे हैं. कि  फलां समुदाय के लोगों ने तिरंगा यात्रा पर हमला कर दिया. पर वास्तविकता सोशल मीडिया में चल रहे मैसेजेज़ से बिलकुल अलग है. इस घटना […]

Read More
 पति को बचाने 15 दिन के बच्चे को 45 हजार रुपये में बेचा

पति को बचाने 15 दिन के बच्चे को 45 हजार रुपये में बेचा

उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में एक सनसनी खेज मामला सामने आया है, जिसके बारे में जानकर आप हैरान रह जाएंगे. जहाँ एक तरफ सरकारे बड़े बड़े दांवो के साथ विकास का दम्भ भर रही हैं तो दूसरी तरफ लोग गरीबी में ईलाज के लिए अपने कलेजे के टुकटे को बेचने पर मजबूर हैं.   […]

Read More
 वोटर लिस्ट में नहीं था विधायक का नाम

वोटर लिस्ट में नहीं था विधायक का नाम

क्या आप सोच सकते हैं, कि किसी चुने हुए जनप्रतिनिधि का नाम वोटरलिस्ट से गायब हो जाए. जबकि उक्त जनप्रतिनिधि ने पूर्व में 7 माह पूर्व अपने मताधिकार का उपयोग किया हो, और उसी चुनाव में वे जनता के जनप्रतिनिधि चुनकर आये हों. मामला उत्तरप्रदेश के श्रावस्ती ज़िले का है, जहाँ की भिनगा विधानसभा क्षेत्र […]

Read More
 ताज और योगी सरकार

ताज और योगी सरकार

भाजपा सरकार का अपना पूर्व निर्धारित बहुआयामी एजेंडा है जिसका लक्ष्य विपक्ष और जनता को मेनस्ट्रीम राजनीति से अलग रख कर भर्मित करते रहना है । जिसका प्रामाणिक उदहारण हम पिछले 3 तीन सालो से लगातार देखते आ रहे है अब चाहे वो राम मन्दिर का बहुमूल्य मामला हो जो 2019 के लिए पहले से […]

Read More