1934 से 1948 तक, महात्मा गांधी की हत्या के कई प्रयास हो चुके थे

1934 से 1948 तक, महात्मा गांधी की हत्या के कई प्रयास हो चुके थे

गांधी की हत्या के प्रयास 1934 से ही किये जा रहे थे। गांधीजी भारत आये उसके बाद उनकी हत्या का पहला प्रयास 25 जून, 1934 को किया गया। पूना में गांधीजी एक सभा को सम्बोधित करने के लिए जा रहे थे, तब उनकी मोटर पर बम फेंका गया था। गांधीजी पीछे वाली मोटर में थे, […]

Read More
 एक महानायक की व्यथा !

एक महानायक की व्यथा !

महात्मा गांधी के जीवन का आखिरी साल हमारे इतिहास की कुछ सबसे त्रासद घटनाओं का साक्षी रहा है। यह वह वक़्त था जब भारतीय स्वतंत्रता-संग्राम का महानायक अचानक देश का सबसे अकेला, सबसे उदास, सबसे उपेक्षित व्यक्ति नज़र आने लगता है। उसकी बात सुनने वाला कोई नहीं था। उन्होंने नहीं चाहा कि देश का बंटवारा […]

Read More