सरकार के राजस्व संग्रह में भारी कमी, आरबीआई से फिर पैसा लेने की तैयारी

सरकार के राजस्व संग्रह में भारी कमी, आरबीआई से फिर पैसा लेने की तैयारी

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, सरकार के राजस्व संग्रह में लगातार कमी आ रही है। हर महीने होने वाला जीएसटी कर संग्रह अनुमान के अनुसार कम हो रहा है। सभी आर्थिक सूचकांक गिरावट और बेरोजगारी, भुखमरी, बैंकिंग घोटाले, बैंकों के एनपीए के आंकड़े वृध्दि की ओर हैं। राजस्व संग्रह में आई कमी के चलते केंद्र सरकार […]

Read More
 ईरान अमरीका विवाद और भारत

ईरान अमरीका विवाद और भारत

कुछ मित्र इसे भी एक उपलब्धि मान रहे हैं कि अमेरिका ईरान के विवाद में हमे किसी महत्वपूर्ण भूमिका के लिये पूछा जा रहा है। विशेषकर वे मित्र जो 2014 के बाद ही संबोधि को प्राप्त हुए हैं, उन्हें यह बात अधिक लगती है कि यह एक महान उपलब्धि है। जबकि हम दुनिया के विकासशील […]

Read More
 भारतीय चुनावों का इतिहास – चुनावी मुद्दे, सुरक्षा बल और सैन्य कार्यवाहियां

भारतीय चुनावों का इतिहास – चुनावी मुद्दे, सुरक्षा बल और सैन्य कार्यवाहियां

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान जो प्रमुख मुद्दे उभर कर आये हैं उनमें एक मुद्दा सेना, सुरक्षा बल और सैनिक कार्यवाहियों का है। सुरक्षा बलों, यानी सेना, पुलिस, अर्ध सैनिक बलों पर सामूहिक चर्चा या जन चर्चा से कोई परहेज नहीं करना चाहिये क्योंकि यह सब तंत्र भी सरकार के अंग है और सुरक्षा, शांति […]

Read More
 क्या नरेंद्र मोदी ने झूठ पकड़ने वाले पत्रकारों का काम बढ़ा दिया है?

क्या नरेंद्र मोदी ने झूठ पकड़ने वाले पत्रकारों का काम बढ़ा दिया है?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन पत्रकारों का काम वाकई बढ़ा दिया है जो उनके झूठ पकड़ने लायक पढ़े लिखे हैं। बाकी तो ‘हर हर मोदी’ के जप में व्यस्त हैं और एक दिन मनोवांछित वरदान की अपेक्षा रखते हैं। सोचा था कि नेहरू के खिलाफ दुष्प्रचार के खिलाफ आज कुछ आपके काम का लिखूं लेकिन […]

Read More
 2014 में किये वादों का क्या हुआ ?

2014 में किये वादों का क्या हुआ ?

मैं आप के साथ लोकसभा चुनाव 2014 का भाजपा का संकल्प पत्र 2014 साझा कर रहा हूँ। सबका साथ सबका विकास के नारे के साथ वह चुनाव अनोखा था और उसके वादे तो और भी अलबेले थे। यह उन वादों की फेहरिस्त है। आप स्वतः तय कीजिये कि किन किन वादों का क्या हुआ और […]

Read More
 क्या पकिस्तान के नाम पर देश को बेवकूफ़ बना रही है मोदी सरकार ?

क्या पकिस्तान के नाम पर देश को बेवकूफ़ बना रही है मोदी सरकार ?

यकीन मानिये पाकिस्तान के प्रति हालिया युद्धोन्माद का एक कारण पुलवामा हमले के साथ साथ लोकसभा चुनाव 2019 भी है। चुनाव बाद जो भी सरकार आएगी वह पाकिस्तान से बातचीत करेगी ही। यह बातचीत पाकिस्तान के प्रति अनुराग या हृदय परिवर्तन का परिणाम नहीं होगा बल्कि यह अंतराष्ट्रीय कूटनीतिक समीकरण और दोनों देशों के नाभिकीय […]

Read More
 विशेष – मेरे नारे ही, मेरा शासन हैं

विशेष – मेरे नारे ही, मेरा शासन हैं

आपको याद होगा कुछ दिनों पहले हम एक प्रस्तुति लेकर आये थे और हमने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक जादूगर हैं, और हर जादूगर की तरह उन्हें हिप्नोसिस आता है. यानि कि सम्मोहन. और वो देश की जनता के बहुत बड़े हिस्से का सम्मोहन कर रहे हैं. और क्या आप जानते हैं कि […]

Read More
 कौन लेगा सुरक्षा चूक ( Security failure ) की ज़िम्मेदारी ?

कौन लेगा सुरक्षा चूक ( Security failure ) की ज़िम्मेदारी ?

पठानकोट, उरी और अब पुलवामा। ये तीन हमले 2014 के बाद एनडीए सरकार में  सीधे सीधे सुरक्षा बलों पर हुए। दो तरह के हमले होते हैं। एक तो वे हमले जिनमे लक्ष्य सुरक्षा बल नहीं बल्कि नागरिक या कोई वीआईपी या कोई प्रतिष्ठान होता है। उन्हें बचाने के लिये सुरक्षा बल सामने आते हैं, जो […]

Read More
 पहले चोरी, फिर फोटोकॉपी और अब तीन पन्ने छूट गए हुज़ूर

पहले चोरी, फिर फोटोकॉपी और अब तीन पन्ने छूट गए हुज़ूर

इस सरकार में सबसे अधिक धर्मसंकट में अगर कोई है तो देश के अटॉर्नी जनरल और सॉलिसिटर जनरल हैं। यह धर्म संकट राफेल मामले में सुप्रीम कोर्ट में हो रही सुनवायी को लेकर है। सरकार राफेल मामले में फंसी पड़ी है। पीएमओ ने सारी प्रक्रिया को ताक पर रख कर एक डिफाल्टर पूंजीपति को दसॉल्ट […]

Read More
 राफेलसौदा मामले में समानांतर बातचीत बनाम मॉनिटरिंग

राफेलसौदा मामले में समानांतर बातचीत बनाम मॉनिटरिंग

कल (8 फ़रवरी ) से राफेल मामले में बवाल मचा हुआ है। रक्षा मंत्रालय की राफेल सौदे से जुड़ी फाइल जिसे बेहद गोपनीय कहा जाता है और यह कागज़ पर गोपनीय है भी उसके कुछ पन्ने की फ़ोटो जिसे देखो वही अपने मोबाइल फोन की गैलरी में ले कर टहल रहा है। अमूमन यह नोटशीट […]

Read More