राम-रहीम के समर्थकों की जगह मुस्लिम दलित या वामपंथी संगठन के लोग होते तो…

राम-रहीम के समर्थकों की जगह मुस्लिम दलित या वामपंथी संगठन के लोग होते तो…

बाबा राम रहीम के चेले भारत को नक़्शे से मिटाने की बात कर रहे हैं लेकिन इनके ख़िलाफ़ कोई कार्यवाही नहीं होगी। ना ही समाज में व्यापक ग़ुस्सा ज़ाहिर होगा, न ही गोदी मीडिया में इसपर डिबेट होगा। जानते हो क्यों? क्योंकि बाबा राम रहीम ने इलेक्शन के वक़्त इन्हीं फ़र्ज़ी राष्ट्रवादियों का समर्थन किया […]

Read More