हिंदी अख़बारों से ग़ायब रही अलवर के उमर की ख़बर

हिंदी अख़बारों से ग़ायब रही अलवर के उमर की ख़बर

हिंदी के अख़बारों ने अलवर में मारे गए उमर ख़ान की ख़बर को डाउनप्ले कर दिया है लेकिन केरल में मारे गए आरएसएस कार्यकर्ता की ख़बर को प्रमुखता से जगह दी है. मेव समाज के मुताबिक उमर ख़ान एक गौपालक थे. उनकी हत्या एक संगठित अभियान का एक हिस्सा है जिसमें देश के अलग-अलग हिस्सों […]

Read More