नज़रिया – एक चुनी हुई सरकार को LG द्वारा कार्य न करने देना कहाँ तक सही है?

नज़रिया – एक चुनी हुई सरकार को LG द्वारा कार्य न करने देना कहाँ तक सही है?

दिल्ली के एलजी तो बड़े फ़रज़ी निकले। वे नौकरशाही के मुखिया हैं और उसे शह दे रहे हैं कि सरकार को सहयोग न करें? तीन महीने हो गए, अफ़सर सौंपे गए काम नहीं कर रहे, बुलाने पर आते नहीं, फ़ोन भी सुनने से इनकार कर देते हैं। अगर सरकार पंगु होकर रह गई है तो […]

Read More