LIC को निजीकरण की राह पर क्यों धकेला जा रहा है ?

LIC को निजीकरण की राह पर क्यों धकेला जा रहा है ?

भारतीय जीवन बीमा निगम (life insurance company of india) का राष्ट्रीयकरण 1956 में हुआ था । उससे पहले देश मे 200 से अधिक निजी कंपनियां कार्यरत थी । तब होता यह था कि जैसे ही किसी निजी कंपनी पर कोई भारी देनदारी आती, वह दिवालिया हो जाती । यानि जनता द्वारा जमा किया गया पैसा […]

Read More