महिला सशक्तिकरण पर नम्रता मिश्र की कविता “लाल पित्रसत्ता’

महिला सशक्तिकरण पर नम्रता मिश्र की कविता “लाल पित्रसत्ता’

लाल  पित्रसत्ता मर्दों की इस दुनिया में, महिलाएं दोगुनी मेहनत कर, अपनी जगह बनाती हैं। आजाते हो तुम वहां भी, भले वो आपको नहीं बुलाती हैं। वो बात करना चाहती हैं अपनी ज़िन्दगी और लड़ाइयों की, बाकी आप खुदको, इस मामले में भी, पारंगत समझते हैं। लाल सलाम! लाल सलाम! आपके नारे होते हैं। हर बात […]

Read More