सोशल मीडिया के में तेजी से वायरल हुए एक ऑडियो क्लिप ने उत्तरप्रदेश में एनकाउंटर के नाम पर चल रहे खेल की पोल खोल दी है. एक हिस्ट्रीशीटर और पुलिस अधिकारी के बीच की बातचीत के ऑडियो से खाकी और गुंडों के बीच साठगांठ का पर्दाफाश हो गया है.

ऑडियो के वायरल होने के बाद डीजीपी के निर्देश पर झांसी के एसएसपी ने मऊरानीपुर के प्रभारी निरीक्षक सुनीत कुमार सिंह को निलंबित कर दिया है.

मऊरानीपुर थाने के प्रभारी निरीक्षक और वहां के वांछित अपराधी लेखराज सिंह यादव के बीच आपत्तिजनक वार्ता का एक ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा था. जिसमें SHO अपराधी से फ़ोन पर बात करते हुए कह रहा कि अगर एनकाऊँटर से बचाना है तो किसी भाजपा नेता को सेट कर लो.

वायरल हुए इस ऑडियो ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पुलिस द्वारा किए जा रहे एनकाउंटर के तरीके पर सवाल खड़ा कर दिया है.

इस बातचीत में साफ सुना जा सकता है कि पुलिस अधिकारी हिस्ट्रीशीटर से कह रहा है कि सरेंडर कर दो नहीं तो एनकाउंटर में मार दिए जाओगे. वहीं हिस्ट्रीशीटर पुलिस अधिकारी से मदद करने के लिए कह रहा है.

इस बातचीत के वायरल होने के बाद यह सवाल उठ रहे हैं, कि क्या उत्तरप्रदेश में एनकाऊँटर के नाम पर कुछ और ही खेल चल रहा है. जिसमें उन क्रिमिनल्स को बचाया जाता है, जिनके भाजपा नेताओं से अच्छे संबंध हैं.